पिछले दस वर्षों में, बच्चों और किशोरों में टाइप 2 मधुमेह का पता चला है। मधुमेह की समस्या का पहले से निदान कर हम इससे होने वाली समस्याओं से खुद को बचा सकते हैं।

Source link